Pages

Tuesday, February 22, 2011

!!...मोहब्बत...!!









..!!...मोहब्बत...!!

मोहब्बत
दिल पे दस्तक देती है....!!

बदन को
रूह का रास्ता
दिखाती है....!!!


मोहब्बत
एक दुआ है
हमेशा
साथ रहती है....!!!

मोहब्बत
ठंडी छाँव है
जो सहरा के
सफ़र में काम आती है...!!!

मोहब्बत
उसका पल्लू है
जहाँ
उम्मीद ने कुछ
अल्फाज बांधें हैं...!!!

मोहब्बत
उसकी आँखें हैं
कि जिनमें
ख्वाब उगते हैं

मोहब्बत
उसका चेहरा है
कि जिसकी तह में
रखे ..दिल में
ख्वाहिश सांस लेती है......!!!

मोहब्बत ...दिल पे... दस्तक देती है...!!

No comments:

Post a Comment