Pages

Friday, March 2, 2012

खोना नहीं हमको.....!!!

सुनो ....!!!
हमारी खुश नसीबी है ...
तुम्हारे इश्क पे मरना ....


अगर हम
मर गए तो
देखो...


रोना नहीं हमको.....!!!


दोबारा जो
उगाओगे
दोबारा ..फूल
देंगे हम....


मगर ...


पत्थर दिलो
के शहर में
बोना नहीं हमको ....!!!


सुनो ....
हम जिंदगी है.....


और                                                
 जिंदगी सिर्फ....
एक बार मिलती है...
खफा होना...
गिरा देना...

मगर

खोना नहीं हमको.....!!!

2 comments:

  1. लाजबाब प्रस्तुति !
    आभार !

    ReplyDelete
  2. सुन्दर भावपूर्ण रचना..

    ReplyDelete