Pages

Thursday, March 28, 2013

मोहब्बत आप जैसी है ....!!!

मुझे
सब लोग कहते हैं ....
मोहब्बत
जानते हो तुम   ??
मोहब्बत
मानते हो तुम ....???
मोहब्बत
आग जैसी है ....
जो जलती है
न बुझती है ...
मोहब्बत
गीत जैसी है
कई साजों पे 
मबनी है .....!!!!

मोहब्बत
रंगों की तितली .....
जो
खुशबू ढूंढ लेती है ....!!!

मगर
मुझको ये लगता है ....
ये सारे लफ्ज़ झूठे हैं .....
अगर
सच है तो
बस ये है ....

मोहब्बत आप जैसी है ....!!!

Wednesday, March 20, 2013

कम नही होती .....!!!

सुनो जाना ...!!

मोहब्बत
रूह में
उतरा हुआ मौसम है
ताल्लुक 
ख़तम करने से
मोहब्बत कम नही  होती ...!!!

जो तेरे वास्ते
सजने  सँवरने 
में गुज़रती है.....

बहुत
मशरूफियत  में  भी
वो फुर्सत कम  नही  होती .....!!!


बहुत कुछ
तुझसे पहले भी
मयस्सर था
मयस्सर है ...
ना जाने
फिर भी
क्यों....??
तेरी

"जरुरत कम नही होती...!!!"

Tuesday, March 12, 2013

मोहब्बत........मार ...जाती है.....!!!"


सुनो  जाना...!!!

मोहब्बत खौफ होती है 
कभी नादान होती है
कभी  हैरान करती है...


मुझे  मालूम है ..शायद ..
बहुत नुकसान करती  है......!!!

तमाशा आम  करती है
ये घर वीरान करती है ...
जहाँ हो रौनके  जिंदा
वो  दिल 
सुनसान करती है .....!!!


मगर अब सुन...
मेरे हमदम...
मुझे  तुमसे   मोहब्बत है ...

मोहब्बत  वो हकीकत है 
जो
दिल आबाद करती है ....

मोहब्बत जीत होती है
मगर ये हार जाती है ....!!!

कभी दिल सोज़ लम्हों से
कभी बेकार रस्मो से ......
मोहब्बत ,,,,
खुद नहीं मरती....!!!

""   मोहब्बत........मार ...जाती है.....!!!"

Sunday, March 10, 2013

लौट आना ....!!!

उदास शामो की
सिसकियों में
भी जो मेरी
आवाज़ सुनना ..
तो बीते लम्हों को
याद करके
इन ही फिजाओं में

लौट
आना ..!!!

तुम
आया करते थे
ख्वाब बनकर ...
कभी महकता
गुलाब बनकर ...
मै खुश्क होंठों से
जब भी पुकारूँ ...
इन्ही अदाओं में

लौट आना ...!!!!

मेरी वफाओं को
पास रखना ...
मेरी दुआओं को

पास रखना ..
मै खाली हाथों को
जब भी उठाऊँ ...

मेरी दुआओं में लौट आना ....!!!