Pages

Friday, July 26, 2013

पलट आना ...!!!

कोई
गुज़रा हुआ लम्हा ...
कोई
बीती हुई सौगात ...
तुम्हारे
दिल के बंद दरीचे में
....चली आये ..
तुम्हे
ऐसा लगे ...
कि मुद्दत बाद ..
तुम्हे
धीमी सी
मीठी सी
कसक
महसूस होती है ....



तुम्हें
कुछ याद आता है

तो
मेरे भूले हुए साथी ..

मेरे ना`मेहरबान ...

पलट आना ...!!!
पलट आना....!!!

कि मेरी सामा `तें
अब भी

तुम्हारी आहटों की मुन्तजिर हैं ....!!!

Wednesday, July 24, 2013

मोहब्बत काँच का सौदा ...!!!




मोहब्बत
काँच का सौदा ...!!!

मोहब्बत
आग का दरिया ....
मोहब्बत
जून जैसी है
मोहब्बत
बरफ का गोला ..!!!
मोहब्बत
रात काली है ..
मोहब्बत
नीला मौसम है ..
मोहब्बत

कच्चा आँगन है ...
मोहब्बत
तितलियों का घर ....!!!
मगर फिर भी ....

मोहब्बत
काँच का सौदा .....
किसी
नामालूम बस्ती से ....
किसी
अनजान हस्ती से ..
किसी 
कागज की कश्ती से ...!!!

किसी
खिड़की के मंजर से ..

किसी
पत्थर के खंजर से ...

किसी
धुंधली सी हसरत से ...

किसी
बेदर्द किस्मत से .... !!!

किसी
झूठी तसल्ली से .....

मोहब्बत हो ही जाती है ....!!!

Monday, July 22, 2013

मुझे छोड़ने की सजा न दे .... !!!



तेरी
चाहतों में है
अपनापन ..!!!

मुझे दिल से

कहीं ये रुला न दे ...!!!

मै  शजर  हूँ
जज्बा ऐ इश्क का
तुझे
इश्क़ मेरा सता न  दे  ....!!!

तू
जहा भी होगी
याद रख
तेरी हर अदा 
मेरे संग है  .....!!!

मुझे
अपनी कुछ भी
खबर नहीं ..
डर  ये है 
कि तू भुला न दे ....!!!
 
मुझे
पास रख 
मुझे थाम ले ..

मुझे छोड़ने की सजा न दे .... !!!


Monday, July 15, 2013

उसे कहना ....ये दुनिया है ...!!!


उसे कहना                                                
ये दुनिया है ...!!!
यहाँ हर शख्स
मतलब की
हदों तक साथ चलता है ..!!!

ज्योही
मौसम
बदलता है ..
मोहब्बत के
सभी दावे ..
सभी कसमे
सभी वादे
अचानक टूट जाते हैं ..!!!

उसे कहना
ये दुनिया है
यहाँ हर मोड़ पे
अपनी
सदा आँखे खुली रखना ..!!!
कोई
कितना भी
अच्छा हो
कोई
कितना भी
सच्चा हो ...
मगर
ऐतबार
मत करना ...!!!

उसे कहना

....


ये दुनिया है ...!!!