Pages

Wednesday, May 24, 2017

वो अक्सर मुझसे कहती थी ...!

वो अक्सर मुझसे कहती थी 
"वफ़ा है. जात औरत की "

गर जो मर्द होते हैं 
.... बहुत बेदर्द होते हैं ...!!!

मगर फिर यूँ हुआ ---
मुझे  अनजान रास्ते पर 
अकेला छोड़ कर उसने 
मेरा दिल तोड़ कर उसने 
मोहब्बत छोड़ दी उसने ..!!!

वफ़ा है जात औरत की 
ये .. 
"रिवायत" तोड़ दी उसने .....!!!